Wed. Jul 17th, 2019

Hindi

भारतीय हकूमत ने सिक्खों के साथ इंसाफ़ की जगह हमेशा सौतेली माँ से भी बुरा सलूक किया: बाबा हरनाम सिंह ख़ालसा

भारतीय हकूमत ने सिक्खों के साथ इंसाफ़ की जगह हमेशा सौतेली माँ से भी बुरा…

अल्पसंख्यकों को धमका कर सांप्रदायक नफऱत फैलाने वालों विरुद्ध सख़्त कार्यवाही हो: बाबा हरनाम सिंह ख़ालसा 

अल्पसंख्यकों को धमका कर सांप्रदायक नफऱत फैलाने वालों विरुद्ध सख़्त कार्यवाही हो: बाबा हरनाम सिंह…

पिता अजमेर औलख की यादों में इमोशनल होकर सोहज बराड ने की खुदकुशी 

पिता अजमेर औलख की यादों में इमोशनल होकर सोहज बराड ने की खुदकुशी  बेटी पेपर देने के बाद पिता व भाई के साथ मां की चिता को अग्नि देने पहुंची रामबाग   बठिंडा, 28 मार्च: मशहुर नाटक कार व रंग मंची अजमेर सिंह औलख की बेटी सोहज दीप बराड ने अपने पिता की यादों में इमोशनल होकर ही खुदकुशी की है । इस बाबत थाना कैंट प्रभारी नरिंदरशर्मा ने पुष्टि कर दी है। वहींं मृत्का बराड की बेटी का बुधवार को गणित का पेपर था, जिस को देने बाद ही वह अपने पिता व भाई के साथ अपनी मां की चिता को अग्नि देनेरामबाग पहुंची । गौर हो कि मंगलवार शाम को सोहज दीप बराड ने अपने घर माडल टाऊन बठिंडा में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली थी । जिस का आज दोपहर दो बजे के करीबस्थानीय दाना मंडी में स्थित रामबाग में अंतिम संस्कार कर दिया गया । इस मौके पंजाबी गायकी से जुडे हुए कलाकार व अन्य नाटक कार और आम लोग बराड के अंतिम दर्शनोंके लिए शमशान घाट में पहुंचे हुए थे । थाना कैंट प्रभारी नरिंदर शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि सोहज दीप बराड के पिता अजमेर सिंह की करीब एक वर्ष पहले मौत हो गई थी । जिस के तहत मानसा में अजमेर कीयाद में लोगों की ओर से एक समागम यादें अजमेर की तहत रखवाया गया था । जिस में सोहज का पति गुरविंदर बराड शिरकत करने गए हुए थे । उन्होनें बताया कि शाम को जबसोहज अपने बेटे के साथ घर पर थी तो उसने अपने घर की पहली मंजिल में जाकर फंदा लगा खुदकुशी कर ली । थाना प्रभारी ने कहा कि मृत्का के परिजनों के अनुसार सोहज कोअपने पिता अजमेर के साथ बडा लगाव था और वह अकसर ही उसकी यादों में डूबी रहती थी । परिजनों के अनुसार मंगलवार को जब उसके पिता की याद में मानसा में समागमकरवाया जा रहा था तो उसी समय सोहज अपने पिता की याद को लेकर इमोशनल हो गई और उसने यादों में इमोशनल होकर ही खुदकुशी करने जैसा कदम उठा लिया । थानाप्रभारी ने बताया कि मृत्का का पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव को उसके परिजनों के हवाले कर मृत्का की मां मनजीत कौर के ब्यानों पर 174 के तहत कारवाई कर दी थी । बतातें चलें कि मशहुर नाटककार अजमेर औखल के तीन बेटियां ही थी और सबसे बडी बेटी सोहज दीप ही थी । जो बचपन में ही अपने पिता के साथ स्टेज पर अदाकारी करने लगीथी । मृत्का की बेटी रूह जीनत कौर जो कि दस्वीं की प्रीक्षा दे रही है । बुधवार को उसका शहर के एक प्रीक्षा केंद्र में गणित का पेपर था । कौर अपना पेपर देने के बाद ही अपने पिता एवंभाई के साथ अपनी मां की चिता को मुख्य अग्नि देने शमशान घाट पहुंची थी । मम्मी हम तुम्हें बहुत याद करेगें अंतिम संस्कार मौके मृत्का के दोनों बच्चें बार बार कह रहे थे कि मम्मी तुम हमें छोडकर क्यों चले गए, हम तुम्हें बहुत याद करते रहेगें । पंजाबी गायक कुलविंदर ‌‌बिल्ला ने कहा कि गायक गुरविंदर बराड के परिवार के लिए यह बहुत दुखद समय है और हम सब पंजाबी गायक अपने साथी गायक बराड के साथ कंधे सेकंधे मिलाकर खडे है । उन्होनें कहा कि प्रमात्मा बिछडी रूह को अपने चरणों में वास दें ।