राज्यपाल का नशीले पदार्थों को समाप्त करने के लिए सामाजिक संगठनों से आह्वान

राज्यपाल का नशीले पदार्थों को समाप्त करने के लिए सामाजिक संगठनों से आह्वान
प्राकृतिक खेती से जल स्तर में वृद्धि संभव

खरड़ (गुरनाम सागर): हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने आज पंजाब के मोहाली ज़िला के में आर्य समाज मंदिर के भवन का लोकार्पण करते हुए पंजाब तथा अन्य स्थानों के सामाजिक संगठनां के प्रतिनिधियों को समाज से नशे जैसी बुराई को समाप्त करने के लिए एकजुट प्रयास कर आगे आने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि युवाओं तथा समाज की ऊर्जा को मानवता की उन्नति के लिए लगाया जाना चाहिए।

राज्यपाल ने कहा कि पंजाब तथा हरियाणा में तेजी के साथ घटता जल स्तर इन दोनों राज्यों सहित देश के अन्य भागों के लिए भी चिन्ता का विषय है। उन्होंने कहा कि इन दो राज्यों में पानी का स्तर हर वर्ष चार फुट तक घट रहा है और इसका इन क्षेत्रों में कृषि तथा आम लोगों के स्वास्थ्य पर दीर्घकालीन विपरीत प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक खेती केवल मात्र उम्मीद है जो वर्षों से रासायनिक खेती से हो रहे दुष्प्रभावों को रोक सकती है।

आचार्य देवव्रत ने कहा कि स्वामी दयानन्द सरस्वती ने उस समय समाज में व्याप्त मुख्य सामाजिक बुराईयों को समाप्त किया। उनका दर्शनज्ञान तथा विचार आज भी प्रासंगिक है क्योंकि आधुनिक समय में नई प्रकार की सामाजिक बुराईयां पैदा हुई हैं।

उन्होंने इस अवसर पर शहर के प्रतिष्ठित व्यक्तियों को सम्मानित भी किया, जिन्होंने समाज में अपना नाम अर्जित किया है। राज्यपाल द्वारा सम्मानित किए जाने वालों में अन्यों सहित भारतीय प्रशासनिक सेवा के ललित जैन, ज़िला एवं सत्र न्यायाधीश राजन गुप्ता, सहायक आयुक्त संजीव शर्मा भी शामिल थे।

इससे पूर्व रमेश चन्द्र जीवन ने राज्यपाल का स्वागत किया तथा विश्वबंधु आर्य ने उनके दौरे के लिए धन्यवाद किया। इस अवसर पर लेडी गवर्नर दर्शना देवी भी उपस्थित थी।

ललित बंसल, सुबोध गुप्ता, विष्णु मित्तत भी इस अवसर पर मौजूद रहे।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: