पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी का मोदी पर हमला, सर्जिकल स्ट्राइक को बताया ‘फर्जीकल’ स्ट्राइक

पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी का मोदी पर हमला, सर्जिकल स्ट्राइक को बताया ‘फर्जीकल’ स्ट्राइक

पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता अरुण शौरी ने एक बार फिर सरकार को आड़े हाथ लिया है. शौरी ने सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर सरकार पर हमला बोला है. अरुण शौरी ने सर्जिकल स्ट्राइक पर तंज कसते हुए इसे फर्जिकल स्ट्राइक बता दिया. उन्होंने कहा काम सेना करती है लेकिन सरकार अपनी पीठ थपथपाती है. शौरी ने कहा कि कहा कश्मीर और पाकिस्तान पर सरकार की कोई नीति नहीं है.

समस्या को उजागर कर रहे हैं सोज- शौरी :-पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी ने कहा कि कश्मीर के लोगों को ‘विक्टिम कार्ड’ खेलना बन्द करना होगा. शौरी ने सोज को निशाने पर लेने वालों से कहा कि सोज समस्या नहीं है, वो एक समस्या को उजागर कर रहे हैं. शौरी कांग्रेस नेता सैफुद्दीन सोज की कश्मीर पर लिखी गई बुक ‘गलीम्प्सेज ऑफ हिस्ट्री एन्ड द स्टोरी ऑफ स्ट्रगल’ के लॉन्चिंग कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे थे.

सेना के लिए नहीं, सरकार के लिए किया फर्जीकल’ स्ट्राइक शब्द का प्रयोग- शौरी:- इस दौरान शौरी जमकर मोदी सरकार पर बरसे. उन्होंने सरकार को नीति विहीन करार दिया. शौरी ने कहा कि सरकार के पास न तो पाकिस्तान, न चीन और ना ही कश्मीर को लेकर कोई नीति है. उन्होंने कहा कि ‘फर्जीकल’ स्ट्राइक शब्द का प्रयोग मैंने सेना के लिए नहीं बल्कि सरकार के लिए किया है.शौरी ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक से स्थिति में कोई बदलाव नहीं आया. इतना ही नहीं जब शौरी से ये पूछा गया कि सर्जिकल स्ट्राइक का दावा सेना ने खुद किया था और इस बयान से सेना का अपमान हुआ है तो शौरी ने पत्रकारों को गधा बता दिया और फिर गुस्से में निकल गए.

कार्यक्रम में नहीं पहुंचे मनमोहन सिंह:- बता दें कि सैफुद्दीन सोज पूर्व केंद्रीय मंत्री और जम्मू कश्मीर से ताल्लुक रखने वाले वरिष्ठ कांग्रेस नेता हैं. उनकी बुक लॉन्चिंग के मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम भी नहीं आए. दरअसल इस किताब के आने से ठीक पहले सोज ने कश्मीर की आजादी और पाकिस्तान के पूर्व सैनिक तानाशाह परवेज मुशर्रफ की तरफदारी वाले बयान दे करके बड़ा विवाद खड़ा कर दिया था. इस कारण सोज के बुक लांच चर्चा में आ गई. बीजेपी ने सोज के बयान को लपक कर कांग्रेस पर हमला बोल दिया.

स्थिति को भांपते हुए कांग्रेस ने सोज के बयानों को किताब बेचने का हथकंडा बताया. कांग्रेस ने पहले सोज के बयान से किनारा किया बाद में बुक लांच से.  हालांकि इस कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने पहुंचकर लोगों को हैरान कर दिया. जयराम आए जरूर लेकिन ना तो कुछ बोले ना ही मीडिया के सवालों का जवाब दिया.

किताब का कांग्रेस ने कोई लेना देना नहीं- सोज:- सैफुद्दीन सोज ने कहा कि ये मेरी किताब है, कांग्रेस इसके लिए जिम्मेदार नहीं है. सोज ने कहा कि उन्होंने काफी रिसर्च के बाद किताब लिखी है. मीडिया ने मेरी बातों को गलत तरीके से पेश किया. बाद में मीडिया से बात करते हुए सोज ने मुशर्रफ को लेकर उठे विवाद पर कहा कि मुशर्रफ की कोई अहमियत नहीं है.

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: