ज़िन्दगी जीने के अंश

ज़िन्दगी जीने के अंश

ज़िन्दगी में जीने के लिए चाहिए हवा, हरियाली और पानी,
ज़िन्दगी में जीने के लिए चाहिए हवा, हरियाली और पानी,
नहीं तो होती है इनके बिना खत्म कहानी।

हवा है कई गैसों का मिश्रण,
जिसका न कोई दिखता चित्रण।

पौधों से होती है हरियाली,
जिनके बिना है पृथ्वी मटमैली।

पानी है हाइड्रोजन और ऑक्सिजन का मिश्रण,
जिंदा न रहे जिसके बिना जीवों का वितरण।

ज़िन्दगी में जीने के लिए चाहिए हवा, हरियाली और पानी,
ज़िन्दगी में जीने के लिए चाहिए हवा, हरियाली और पानी,
नहीं तो होती है इनके बिना खत्म कहानी।

दिलबाग सिंह
अगमपुर, आनंदपुर साहिब
मोबाइल- 7009463749

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: