Wed. Jun 19th, 2019

सीजीसी लांडरा में जम्मू एंड कश्मीर के पढ़ने वाले 440 स्टूडेंट्स ने अपने राज्य में ना जाने का विकल्प चुना

????????????????????????????????????

सीजीसी लांडरा में जम्मू एंड कश्मीर के पढ़ने वाले 440 स्टूडेंट्स ने अपने राज्य में ना जाने का विकल्प चुना

आतंकवाद एक प्रमुख कारण है जो हमें पढ़ने और आगे बढ़ने के लिए अन्य राज्यों में आने के लिए प्रेरित करता है।

मोहाली (गुरनाम सागर): सीजीसी लांडरा में जम्मू कश्मीर के राज्य के पढ़ने वाले कुल 440 स्टूडेंट्स ने देश को हिला देने वाले पुलवामा हमले के बाद कैम्पस में अपने मिड समेस्टर के एग्ज़ाम दिए। इन स्टूडेंट्स ने स्थानीय छात्रों के नेतृत्व के साथ मिलकर कैंडल मार्च में हिस्सा लिया और संस्थान से किसी भी प्रकार की कोई छुट्टी नहीं ली बल्कि यह छात्र संस्थान के अंदर ही खुद को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। यह छात्र सोहाना के एसएचओ व सीजीसी लांडरा के अधिकारी कैप्टन आर एस रखरा से मिले थे जिन्होंने उन्हें संस्थान के परिसर में सुरक्षा का आश्वासन दिया था।

बीटैक सेकेंड ईयर के स्टूडेंट खान वामेयर ने कहा की मैं अपने मिड सेमेस्टर की परीक्षा को बर्बाद करना नहीं चाहता था इसलिए मैनें घर जाने की जगह यही संस्थान में रहने का फैसला लिया और काॅलेज के अधिकारियों ने भी हमें सुनिश्चित किया की हम यहां पूरी तरह से सुरक्षित है।

अंतनाग के रहने वाले और सीजीसी लांडरा में बीबीए के सेकेंट ईयर में पढ़ने वाले शेख फसील अहमद ने कहा की मैनें ऐसा देखा है कि जो छात्र कश्मीर में पढ़ाई कर रहे हैं वह वहां चल रही परेशानियों के चलते अपनी पढ़ाई अच्छे से नहीं कर पा रहे हैं। आतंकवाद एक प्रमुख कारण है जो हमें पढ़ने और आगे बढ़ने के लिए अन्य राज्यों में आने के लिए प्रेरित करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: