अफगानिस्तान: IS के आत्मघाती हमलावर ने खुद को बम से उड़ाया, 20 की मौत

ss1

अफगानिस्तान: IS के आत्मघाती हमलावर ने खुद को बम से उड़ाया, 20 की मौत

काबुल: उत्तरी अफगानिस्तान में इस्लामिक स्टेटके एक हमलावर ने मंगलवार(17 जुलाई) को खुद को बम से उड़ा लिया. इस घटना में एक तालिबान कमांडर सहित 20 लोगों की मौत हो गयी. दूसरी ओर दक्षिणी हेलमंड प्रांत में सरकारी बलों ने 54 लोगों को तालिबान की एक जेल से छुड़ा लिया. अफगानिस्तान के सार – ए – पुल प्रांत के प्रमुख अब्दुल कयूम बाकिजोई ने बताया कि आज तालिबान नेताओं के साथ गांव के वरिष्ठ लोगों की मुलाकात के दौरान आईएस ने यह हमला किया . उन्होंने बताया कि मृतकों में गांव के 15 लोग और एक कमांडर सहित तालिबान के पांच सदस्य शामिल हैं.

उत्तरी अफगानिस्तान में तालिबान और इस्लामिक स्टेट समूह के बीच कड़ा संघर्ष देखने को मिला है:- अधिकारी ने बताया कि हाल के दिनों में उत्तरी अफगानिस्तान में तालिबान और इस्लामिक स्टेट समूह के बीच कड़ा संघर्ष देखने को मिला है . दोनों आतंकी संगठनों के बीच हाल के हिंसक संघर्षों में 100 आतंकी मारे गए हैं. हालांकि प्रांतीय परिषद के प्रमुख मोहम्मद नूर रहमान ने बताया कि एक व्यक्ति को दफनाये जाने के समय एक मस्जिद में विस्फोट की यह घटना हुई.

इलाके के सुदूर स्थान पर स्थित होने के कारण दोनों के बयानों में अंतर के कारण का पता नहीं चल सका है. दूसरी ओर दक्षिणी हेलमंड के मुसा काला जिले में कमांडो की एक टुकड़ी ने तालिबान आतंकियों द्वारा संचालित एक जेल पर धावा बोलते हुए 54 लोगों को छुड़ा लिया.

इस्लामिक स्टेट ने अफगानिस्तान में सिखों, हिंदुओं पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली
आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने पूर्वी अफगानिस्तान में सोमवार को एक आत्मघाती हमला करने की जिम्मेदारी ली है. इस हमले में कम से कम 19 लोग मारे गए थे, , जिनमें से ज्यादातर सिख और हिंदू थे. हमलावरों ने अल्पसंख्यक समुदय के एक प्रतिनिधिमंडल को निशाना बनाया जो रविवार को जलालाबाद स्थित गवर्नर आवास जा रहे थे. वे लोग राष्ट्रपति अशरफ गनी से मिलने जा रहे थे.

मारे गए लोगों में अवतार सिंह खालसा भी शामिल थे. वह सिख समुदाय के नेता था. इस हमले में 20 अन्य लोग घायल भी हुए थे. आईएस ने आज जारी एक बयान में कहा कि इसने कई देवी देवताओं की पूजा करने वालों को निशाना बनाया.

राष्ट्रपति अशरफ गनी ने 19 नागरिकों के मारे जाने पर दुख प्रकट किया
वहीं अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने जलालाबाद में इस्लामिक स्टेट के एक आत्मघाती बम हमलावर के हमले में 19 अफगान नागरिकों की मौत पर सोमवार को  दुख प्रकट किया. राष्ट्रपति गनी ने ट्वीट किया , ‘हमें बतौर राष्ट्र उनकी मौत पर गहरा दुख है और उनके प्रियजन को जताना चाहते हैं कि हम उनके साथ हैं. मैं उनके परिवारों और दोस्तों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रकट करता हूं और हम दुख की घड़ी में उनके साथ हैं.’

गनी ने कहा , ‘हमारे जिन साथी अफगानिस्तानियों की जलालाबाद में मौत हो गई , उनके परिवारों के लिए हमारा कलेजा भर आया. मैं गर्वशाली अपने सिख लोगों की मृत्यु पर दुखी हूं. हाल के समय में मुझे कई बार उनसे संवाद करने का सम्मान मिला था. ’

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *